Pankaj Kumar

अगर आपमें कुछ करने की ललक हो तो कितने भी परेशानी क्यों ना आ जाए वो आपको आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती है यह बात तो हम सब जानते है पर बहुत बहुत काम है जो इससे साबित कर पाते है उन्ही में से एक नाम है पंकज कुमार जो सारी मुसीबतो को झलते रहे और आज उनका चुनाव क्रिकेट टीम में हुआ है।बता दे की पंकज यादव 15 वर्ष के है और वो झारखंड से हैं।वो लेग स्पिन गेंदबाजी करते हैं। वो पहली बार वर्ष 2016-17 विजय मर्चेंट ट्रॉफी से लाइम लाइट में आए। इस पूरे टूर्नामेंट के दौरान पंकज ने झारखंड के लिए 6 मैचों में 45 विकेट लिए और उनका औसत 15 का रहा।

इसके बाद उन्हें अंडर19 चैलेंजर ट्रॉफी के लिए इंडिया ग्रीन टीम में मौका मिला। पंकज को भारतीय अंडर19 टीम में विश्व कप के लिए राहुल चाहर पर तरजीह देते हुए चुन लिया गया। पंकज रांची के आइपीएल इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते है। पंकज ने शुरू से एक तेज गेंदबाज के तौर पर क्रिकेट खेलना शुरू किया था। फिर पंकज की मुलाकात रांची में क्रिकेट एकेडमी चलाने वाले जेएन झा से हुई। उन्होंने ने ही पंकज को सलाह दी कि उन्हें स्पिन गेंदबाजी करनी चाहिए। उन्होंने अपने कोच की बात मानी और आज वो भारतीय अंडर 19 विश्व कप टीम का हिस्सा हैं।

पंकज के पिता चंद्र यादव दूध बेचने का काम करते हैं। पंकज ने पिता ने बताया कि वो अपना स्कूल छोड़कर क्रिकेट मैच खेलने चला जाता था। और जब मुझे पता चलता था तब मैं ग्राउंड पर जाकर सबके सामने उनकी पिटाई कर देता था। आज उसे जो फल मिला है वो क्रिकेट में उसके लगाव की वजह से ही है। अब पंकज की वजह से उन्हें एक नई पहचान मिली है और उन्हें अपने बेटे पर गर्व है। पंकज की मां हाउस वाइफ हैं। पंकज का कहना है कि क्रिकेट खेलकर कमाए पैसे से वो अपने पिता को एक गाय भेंट करना चाहते हैं।

http://www.newswithtea.com/wp-content/uploads/2017/12/Pankaj-Kumar.jpghttp://www.newswithtea.com/wp-content/uploads/2017/12/Pankaj-Kumar-150x150.jpgPuja BhardwajSportsIndia cricket team,Son of Milkmanअगर आपमें कुछ करने की ललक हो तो कितने भी परेशानी क्यों ना आ जाए वो आपको आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती है यह बात तो हम सब जानते है पर बहुत बहुत काम है जो इससे साबित कर पाते है उन्ही में से एक नाम है पंकज...News Updates