ISRO

आज इसरो का सैटेलाइट भेजने का शतक पूरा हो गया है।इसरो ने शुक्रवार सुबह 9.28 पर पीएसएलवी के जरिए एक साथ 31 उपग्रह को लॉन्च किया। बता दे की भेजे गए कुल 31 उपग्रहों में से तीन भारतीय हैं और 28 छह देशों से हैं: कनाडा, फिनलैंड, फ्रांस, दक्षिण कोरिया, ब्रिटेन और अमेरिका।कुल 28 अंतरराष्ट्रीय सह-यात्री उपग्रहों में से 19 अमेरिका, पांच दक्षिण कोरिया और एक-एक कनाडा, फ्रांस, ब्रिटेन और फिनलैंड के हैं।

इससे पहले इसरो ने एक साथ 104 सैटेलाइट्स को लांच किया था

प्रधानमंत्री मोदी ने भी इस मौके पर इसरो की जमकर तारीफ की ।मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि नए साल की शुरुआत में ही इसरो की इस उपलब्धि पर बहुत बधाई। हमें उम्मीद है कि ये देश के किसानों, मछुआरों और नागरिकों की मदद करेगा। इससे पहले इसरो ने एक साथ 104 सैटेलाइट्स को लांच करके नया इतिहास रचा था।

भारत ने रूस को भी पीछे कर दिया

एक अंतरिक्ष अभियान में इससे पहले इतने उपग्रह एक साथ नहीं छोड़े गए थे। इसरो का अपना रिकॉर्ड एक अभियान में 20 उपग्रहों को प्रक्षेपित करने का है।इसरो ने ये कारनामा 2016 में किया था। यह काम कर भारत ने रूस को भी पीछे कर दिया था।

http://www.newswithtea.com/wp-content/uploads/2018/01/ISRO-1024x576.jpghttp://www.newswithtea.com/wp-content/uploads/2018/01/ISRO-150x150.jpgPuja BhardwajInformationCreated History,ISRO  आज इसरो का सैटेलाइट भेजने का शतक पूरा हो गया है।इसरो ने शुक्रवार सुबह 9.28 पर पीएसएलवी के जरिए एक साथ 31 उपग्रह को लॉन्च किया। बता दे की भेजे गए कुल 31 उपग्रहों में से तीन भारतीय हैं और 28 छह देशों से हैं: कनाडा, फिनलैंड, फ्रांस, दक्षिण...News Updates